0

Ex CM Kamal Nath Said Whole Madhya Pradesh Knows How Much Corruption Is There

MP News in Hindi: मध्य प्रदेश की राजनीति इन दिनों कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और पूर्व मुख्यमंत्री पर दर्ज एफआईआर को लेकर गरमाई हुई है. एफआईआर प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान की सरकार को कमीशनखोर बताए जाने के खिलाफ दर्ज कराई गई है. अब इस मामले में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि पूरा प्रदेश जानता है कि कितना भ्रष्टाचार है. कितना कमीशन है. लोग तो खुद लगे हैं कि उनके खिलाफ कार्रवाई हो. पूछताछ के लिए बुलाए जाने के सवालों पर उन्होंने कहा कि जब होगा तो होगा.उन्होंने यह बात समाचार एजेंसी एएनआई से कही है.

कहां कहां हुई है एफआईआर

प्रदेश में 50 फीसदी कमीशन वाले ट्वीट पर प्रियंका गांधी और अन्य कांग्रेस नेताओं के खिलाफ  41 से अधिक जगह पर एफआईआर दर्ज कराई गई है. एफआईआर दर्ज होने के बाद से बीजेपी और कांग्रेस काफी आक्रामक हैं. दोनों दलों में आरोप-प्रत्यारोप लगाए जा रहे हैं. कांग्रेस का कहना है कि मध्य प्रदेश सरकार हो या कोई भी बीजेपी सरकार,उसके भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाने पर इस तरह की कार्रवाई आम बात हैं. हम इससे डरने वाले नहीं हैं. भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाते रहेंगे. कांग्रेसियों ने एक बार फिर मध्य प्रदेश सरकार भ्रष्ट बताया है.

मध्य प्रदेश के कांग्रेस नेता अरुण यादव का कहना है कि राज्य में 50 फीसदी कमीशनखोरों की सरकार काम कर रही है. हमने इसके खिलाफ आवाज उठाई. इसे लेकर उन्होंने मेरे, प्रियंका गांधी वाड्रा, पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी है. उन्होंने कहा कि पहले हम गोरों से लड़े थे अब हम इनके खिलाफ लड़ना जारी रखेंगे.

क्या है पूरा मामला

ज्ञानेंद्र अवस्थी नाम के व्यक्ति के नाम से एक पत्र वायरल हुआ. इसमें 50 फीसदी कमीशन मांगने का जिक्र किया गया. कुछ सोशल मीडिया हैंडल्स ने इस लेटर को वायरल कर दिया. इंदौर पुलिस कमिश्नर मकरंद देउस्कर के मुताबिक इसके बाद से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ और अरुण यादव सहित ज्ञानेंद्र अवस्थी पर एफआईआर दर्ज हुई है.

भोपाल में क्राइम ब्रांच के मुताबिक ये एफआईआर आईपीसी की धारा 469, 500 और 501 के तहत दर्ज की गई है. इसमें पत्र लिखने वाले ज्ञानेंद्र अवस्थी नाम के शख्स की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है कि ये शख्स असली है या फर्जी. उनके अलावा, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी, कमलनाथ, अरुण यादव, जयराम रमेश और शोभा ओझा का भी नाम लिया गया है. इन लोगों के ट्विटर हैंडल से खबरें चलीं. ये सभी धाराएं जमानती हैं.

ये भी पढ़ें

Happy Independence Day 2023: सीएम शिवराज ने दी स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं, कहा- ‘तिरंगा हमारा गौरव और अभिमान’